मायावती ने EVM हटाने की मांग उठाये

EVM पर खुलासे के बाद बोलीं मायावती- वोट हमारा राज तुम्हारा नहीं चलेगा, 2019 में ‘बैलेट पेपर’ से हों चुनाव

EVM एक्सपर्ट सैयद सुजा के सनसनीखेज खुलासे के बाद भारत की राजनीति में हलचल मच गई है। कांग्रेस, सपा, बसपा समेत तमाम विपक्षी दल बीजेपी सरकार को घेरने लगे हैं।

EVM विरोधी स्वर और मजबूत हो गई है और बैलेट पेपर से चुनाव की मांग बढ़ने लगी है।

दरअसल, कल ईवीएम एक्सपोर्ट सैयद शुजा ने खुलासा किया था कि 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने EVM टैंपरिंग करके चुनाव जीता था। इसके बाद, पहले कांग्रेस ने सवाल किया फिर समाजवादी पार्टी ने और फिर बसपा सुप्रीमो मायावती ने।

EVM से BJP को फायदा होता है, इसलिए ‘चुनाव आयोग’ इसे बैन नहीं कर रहाः संजय सिंह

लंदन में सम्मलेन में EVM पर कड़े सवाल उठाया गया
लंदन में सम्मलेन में EVM पर कड़े सवाल उठाया गया

मायावती ने कहा कि लोकतंत्र का सवाल है इसलिए EVM मामले में जल्द से जल्द समाधान होना चाहिए।

साथ ही उन्होंने चुनाव आयोग से मांग की है कि 2019 का चुनाव बैलट पेपर से करवाना चाहिए। क्योंकि बैलट पेपर का 3 चरणों में सत्यापन संभव है जबकि EVM के सत्यापन की ऐसी कोई पुख्ता व्यवस्था नहीं है।

मायावती ने इसे जनता के वोटों की लूट बताई है और बीजेपी पर जमकर हमला बोला है।

गौरी लंकेश EVM हैकिंग की स्टोरी करने जा रही थीं, इसलिए उनकी हत्या की गईः EVM एक्सपर्ट

उन्होंने आगे कहा कि ईवीएम के धांधली से देश की जनता डरी हुई है। अब उसे लगने लगा है कि उसका वोट अपना नहीं है। उसका वोट लूटा जा रहा है। जिसकी वजह से भाजपा ना सिर्फ केंद्र में बल्कि कई राज्यों में शासन कर रही है।


Also Read:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here