जाति देखकर रोका शहीद का अंतिम संस्कार, प्रशासन की दखल से सुलझा मामला

जम्मू-कश्मीर के पंपोर में सीआरपीएफ पर हुए हमले में शहीद जवान वीर सिंह के अंतिम संस्कार में उनकी जाति को लेकर हंगामा हो गया. उनके पैतृक गांव के पास श्मशान में दबंग और ऊंची जाति के लोगों ने अंतिम संस्कार की इजाजत देने से मना कर दिया.

जम्मू-कश्मीर के पंपोर में सीआरपीएफ पर हुए हमले में शहीद जवान वीर सिंह के अंतिम संस्कार में उनकी जाति को लेकर हंगामा हो गया. उनके पैतृक गांव के पास श्मशान में दबंग और ऊंची जाति के लोगों ने अंतिम संस्कार की इजाजत देने से मना कर दिया.

शहीद की जाति का बनाया गया मुद्दा

टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक उत्तर प्रदेश के शिकोहाबाद स्थित उनके गांव में सार्वजनिक जमीन पर शहीद वीर सिंह के अंतिम संस्कार के लिए इजाजत देने से इनकार कर दिया. गांव की ऊंची जति के लोगों ने शहीद की नट जाति को इसकी वजह बताया.

जिला प्रशासन की दखल के बाद हुआ अंतिम संस्कार

मामले की सूचना मिलने के बाद स्थानीय प्रशासन को इसमें दखल देना पड़ा. जिला पदाधिकारी के सामने आने के बाद गांव वालों को सहमत किया गया. इसके बाद 10 गुना 10 मीटर की जमीन शहीद के अंतिम संस्कार के लिए दी जा सकी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here